Tuesday, September 27, 2022
Homeमध्यप्रदेशसिंधिया ने जबलपुर-कोलकाता के बीच सीधी उड़ान का उद्घाटन किया
Homeमध्यप्रदेशसिंधिया ने जबलपुर-कोलकाता के बीच सीधी उड़ान का उद्घाटन किया

सिंधिया ने जबलपुर-कोलकाता के बीच सीधी उड़ान का उद्घाटन किया

इंडिया न्यूज़, Jabalpur News : केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य एम सिंधिया और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल ने स्पाइसजेट द्वारा जबलपुर और कोलकाता के बीच सीधी उड़ान का उद्घाटन किया। एयरलाइन दैनिक उड़ानों का संचालन करेगी और मार्ग पर कम दूरी की उड़ानों के लिए डिज़ाइन किए गए अपने Q400,78-सीटर टर्बो प्रोप विमान को तैनात करेगी।

नया उड़ान मार्ग 26 नई घरेलू उड़ानों का एक हिस्सा

जानकारी अनुसार, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने बताया कि यह नया उड़ान मार्ग 26 नई घरेलू उड़ानों का एक हिस्सा है जिसे स्पाइसजेट लॉन्च कर रही है। जानकारी अनुसार, इस अवसर पर बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि पिछले एक साल में देश में हवाई सेवाओं में बड़े पैमाने पर विस्तार हुआ है। खासकर मध्य प्रदेश में जहां जुलाई 2021 में प्रति सप्ताह 554 विमानों की आवाजाही हुई थी और अब यह 980 आंकड़ा बढ़ गया है।

जबलपुर अब 10 शहरों से जुड़ा

जानकारी प्रदान करते हुए उन्होंने कहा कि जबलपुर अब 10 शहरों से जुड़ गया है। और विमानों की आवाजाही 182 हो गई है। इसी तरह ग्वालियर जुलाई, 2021 में 56 विमानों की आवाजाही के साथ 4 शहरों से जुड़ा था। और यह आंकड़ा 100 हो गया है। इंदौर 308 के साथ। विमान की आवाजाही बढ़कर 468 हो गई है और अब यह 20 शहरों से जुड़ गया है। राज्य की राजधानी भोपाल, जिसका जुलाई 2021 में 5 शहरों के साथ हवाई संपर्क था।

रनवे की लंबाई 1988 मीटर से बढ़कर 2750 मीटर हो गई

अब 13 शहरों से जुड़ गया है और इसमें 226 विमानों की आवाजाही है। खजुराहो हवाई अड्डा भी दिल्ली से जुड़ा है। जिसकी प्रति सप्ताह 4 उड़ानें हैं। जानकारी मुताबिक, मंत्री ने कहा कि जबलपुर हवाई अड्डा 1930 में स्थापित किया गया था। और द्वितीय विश्व युद्ध में इसका इस्तेमाल किया गया था। अब हवाई अड्डे का विस्तार किया जा रहा है। रनवे की लंबाई 1988 मीटर से बढ़कर 2750 मीटर हो गई है।

जबलपुर के लोगों को नई कनेक्टिविटी मिलने पर बधाई : जनरल वीके सिंह

टर्मिनल निर्माण क्षमता को 200 यात्रियों से पीक आवर्स में 250 तक बढ़ाया जा रहा है। और इसका क्षेत्रफल 2600 वर्ग मीटर से बढ़कर 10713 वर्ग मीटर हो जाएगा। 3 एयरो ब्रिज बनाए जा रहे हैं। नए एटीसी टावर और फायर स्टेशन बनाए जा रहे हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि 412 करोड़ रुपये की लागत से किया जा रहा विस्तार कार्य अगले साल मार्च तक पूरा हो जाएगा। जानकारी मुताबिक, जनरल सिंह ने जबलपुर के लोगों को नई कनेक्टिविटी मिलने पर बधाई दी।

नई सीधी उड़ान से आम लोगों को यात्रा करने का एक नया विकल्प मिलेगा

जिससे क्षेत्र में व्यापारऔर पर्यटन को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। जबलपुर और उसके आस-पास के क्षेत्रों के लोगों को सीधी हवाई कनेक्टिविटी मिलने से लाभ होगा जिससे यात्रियों की निर्बाध आवाजाही में सुविधा होगी और इसके विपरीत। नई सीधी उड़ान से आम लोगों को यात्रा करने का एक नया विकल्प मिलेगा जिससे पर्यटन क्षमता को बढ़ावा मिलेगा और दोनों क्षेत्रों की आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि होगी। जबलपुर पहले ही नौ शहरों यानी बेंगलुरु, दिल्ली, बिलासपुर, हैदराबाद, इंदौर, मुंबई, पुणे, चेन्नई और भोपाल से जुड़ चुका है। अब इसे 10वें शहर से जोड़ा जा रहा है।

ये भी पढ़े: Big Accident : हरिद्वार से गंगाजल ले जा रहे कांवड़ियों को तेज रफ्तार डंपर ने टक्कर मारी, 6 की मौत और दो घायल

ये भी पढ़े: 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: मध्य प्रदेश को सर्वाधिक फिल्म अनुकूल राज्य का पुरस्कार मिला

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular