Sunday, November 27, 2022
Homeमध्यप्रदेशMP News: गोवर्धन पूजा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पेड़ लगाने...
Homeमध्यप्रदेशMP News: गोवर्धन पूजा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पेड़ लगाने...

MP News: गोवर्धन पूजा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पेड़ लगाने ,पानी-बिजली बचाने का संकल्प दिलाया

- Advertisement -

MP NEWS: मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को गोवर्धन पूजा के अवसर पर गोवर्धन पूजा कर राज्य को पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सपत्नीक भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में आयोजित राज्य स्तरीय गोवर्धन पूजा कार्यक्रम में गोवर्धन पूजा कर प्रदेश की सुख-समृद्धि एवं खुशहाली की प्रार्थना की। साथ ही प्रकृति के प्रति अपनी कृतज्ञता ज्ञापित की। इस अवसर पर सीएम ने कहा कि कहा हमारी जीडीपी ‘ग्रॉस एंवायरनमेंट प्रोडक्ट’ के बिना अधूरी है। मध्यप्रदेश सरकार ने इसी के साथ ग्रीन इनिशियेटिव शुरू किया है। उन्होंने पेड़ लगाने, बिजली बचाने, पानी बचाने, लकड़ी की जगह गोकाष्ठ का इस्तेमाल करने, प्राकृतिक खेती करने, गौग्रास के लिए कुछ न कुछ देने, फसलों की पराली न जलाने और सांस्कृतिक धरोहरों को सुरक्षित रखने का संकल्प जनता को दिलाया।

ग्रीन सिटी इंडेक्ट रैंकिग की शुरुआत

सीएम ने 16 नगर निगम में ग्रीन सिटी इंडेक्स रैकिंग की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि हर शहर को ग्रीन रखने के लिए प्रयास करना होगा। ग्रीन सिटी इंडेक्स में सिटी पार्क प्रबंधन के अलावा, शहर में वन क्षेत्र बढ़ाने का काम, वायु गुणवत्ता बेहतर करने, नवीनीकरण ऊर्जा का उपयोग और ग्रीन ट्रांसपोर्ट की सुविधा पर नंबर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ग्रीन वाहनों की संख्या को बढ़ाना है। इलेक्ट्रानिक वाहनों के चार्जिंग स्टेशनों की संख्या बढ़ाएंगे। यह ग्रीन सिटी इंडेक्स की रैकिंग के लिए हम करेंगे।

ग्रीन सिटी इंडेक्स में मध्य प्रदेश को नंबर वन बनाने की अपील

सीएम ने कहा कि अभी हम 16 शहरों में ग्रीन सिटी इंडेक्स रैकिंग लागू कर रहे है, लेकिन अगले चरण के लिए मैं यह निर्देश दे रहा हूं कि नगर पालिकाओं में भी स्वस्थ प्रतिस्पर्धा होगी कि कौन सा शहर ग्रीन है और उसको पुरस्कृत करने का काम भी करेंगे। सीएम ने कहा कि स्वच्छता के लिए प्रधानमंत्री ने आह्वान किया और मध्य प्रदेश की जनता उठ कर खड़ी हुई। मुझे यह कहते गर्व है कि देश में मध्य प्रदेश स्वच्छता में नंबर एक है। हमें ग्रीन सिटी इंडेक्स की रैकिंग में भी मध्य प्रदेश को नंबर वन पर लाना है। सीएम ने जनता से ग्रीन सिटी इंडेक्स में मध्य प्रदेश को नंबर वन बनाने की अपील की।

गोबर से सीएनसी बनाने का प्रोजेक्ट शुरू होगा

सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश में 1.87 करोड़ से ज्यादा गोवंश है। मैं सम्पूर्ण समाज से अपील करता हूं कि हम गोवंश बचाने के लिए प्रयास करें। मध्यप्रदेश में अभी 1,700 गौशालाएं हैं, 1,404 पूरी हो गई हैं। 1,800 गौशाला हम बना रहे हैं। गोवर्धन योजना के तहत गैस और सीएनजी के निर्माण के लिए इंदौर में प्रयास चालू हो गया है। अगर ढंग से गौशाला चलाएं तो गौशाला आत्मनिर्भर बन जाएंगी। जबलपुर जिले में 21 करोड की लागत से गो मूत्र और गोबर से सीएनसी बनाने का प्रोजेक्ट शुरू होगा। ग्वालियर में 31 करोड की लागत से 100 मी . टन प्रति दिवस की क्षमता का CNG प्लांट स्थापित किया जा रहा है।

हर शहर और हर पंचायत में पेड़ लगाने के लिए सुनिश्चित होगी एक जगह

सरकार हर पंचायत में गौशाला घोषित करेगी। हम चारागाह विकसित करने का प्रयास करेंगे। हम हर शहर और हर पंचायत में ग्रीन कवर बढ़ाने के लिए पेड़ लगाने के लिए एक जगह सुनिश्चित और सुरक्षित करेंगे।

59,000 किसानों का प्राकृतिक खेती के लिए हुआ पंजीयन

सीएम ने कहा कि मैं किसाना बंधुओं से आह्वान करना चाहता हूं कि प्राकृतिक खेती पर भी ध्यान दें। हम खाद और कीटनाशक की पूरी व्यवस्था करेंगे। लेकिन इससे जो जमीन की दुर्दशा होती है, इस पर भी विचार करें। मध्यप्रदेश में 59,000 किसानों का पंजीयन प्राकृतिक खेती के लिए हुआ है। केमिकल फर्टिलाइजर हमारे खाद्य पदार्थों को जहरीला बना रहे हैं। इससे बीमारी बढ़ रही हैं, अगर आज ध्यान नहीं दिया, तो आने वाली पीढ़ियां इससे प्रभावित होंगी। प्रधानमंत्री के ‘मिशन लाइफ’ को सफल बनाने में योगदान देने के लिए जनता से आग्रह करता हूँ।

क्या है मिशन लाइफ ?

20 अक्टूबर 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिशन लाइफ का मूल मंत्र दिया था। मिशन लाइफ दुनिया में तेजी से बदलते जलवायु परिवर्तन को रोकने का एक वैश्विक कैंपेन है. इस योजना के तहत भारत अपने नेतृत्व में दुनिया के सभी शीर्ष कार्बन उत्सर्जन करने वाले देशों के साथ मिलकर वैश्विक तापमान को कम करने और जलवायु परिवर्तनों से होने वाले नुकसान को कम से कम करने को लेकर काम करेगा. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के अनुसार, मिशन लाइफ भारत के नेतृत्व वाला पहला वैश्विक जन आंदोलन हैं जो पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण के लिए व्यक्तिगत और सामूहिक कार्रवाई को प्रेरित करेगा.

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular