Homeकाम की बातभोपाल AIIMS में शुरू हुआ 'मिल्क बैंक', जानें क्या होता है मदर...
Homeकाम की बातभोपाल AIIMS में शुरू हुआ 'मिल्क बैंक', जानें क्या होता है मदर...

भोपाल AIIMS में शुरू हुआ ‘मिल्क बैंक’, जानें क्या होता है मदर मिल्क बैंक ?

- Advertisement -

भोपाल। मध्यप्रदेश के भोपाल में होगी मिल्क बैंक की शुरुआतमें उन मां के लिए अच्छी खबर आ रही है जिन्हें किसी कारण वर्ष दूध नहीं आता है और वह अपने नवजात बच्चे को दूध पिलाने मैं असमर्थ होती है।

पर अब मां अपने बच्चों को दूध पिलाने में समर्थ होगी क्योंकि राजधानी भोपाल के एम्स (AIIMS) में मिल्क बैंक की शुरुआत होने जा रही है।

भोपाल में होगी मिल्क बैंक की शुरुआत

भोपाल में मिल्क बैंक की शुरुआत होने जा रही है इस बैंक में मशीनों की मदद से मां के दूध को 6 महीने तक तक ताजा रखा जा सकता है और साथ माताएं माताएं उसमें दूध भी दान कर सकती है।

शिशु मृत्यु दर में आयेगी कमी

मिल्क बैंक  शिशु मृत्यु दर में कमी लाएगा। राजधानी भोपाल के एम्स अस्पताल में ह्यूमन मिल्क बैंक की शुरुआत की जाएगी। इस मिल्क बैंक में पाश्चराइजेशन यूनिट, रेफ्रिजरेटर, डीप फ्रीज और आरो प्लांट जैसे संसाधनों के माध्यम से छह महीने तक मां के दूध को सुरक्षित रखा जा सकता है।

जानें क्या होता है मदर मिल्क बैंक?

यह एक नॉन प्रॉफिट संस्था है। जहां नवजात शिशुओं के लिए मां का सुरक्षित दूध स्टोर किया जाता है। इस केंद्र में दो तरह की महिलाएं दूध दान करती हैं। पहली अपनी इच्छा से और दूसरी वे माताएं जो अपने बच्चों को दूध नहीं पिला सकती। दरसअल जिनके बच्चे उनका दूध नहीं पिते उनका दुध  निकालाना जरूरी होती है। वरना मां के रोगी होने की आशंका बढ़ जाती है।

यह भी पढ़ें: MP Board Exam: मध्य प्रदेश शिक्षा बोर्ड का सराहनीय कदम, छात्रों का मानसिक तनाव दूर करने के लिए जारी किया टोल फ्री नंबर

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

RELATED ARTICLES

Most Popular