Friday, October 7, 2022
Homeमध्यप्रदेशआइए आज संकल्प लें कि पेड़ लगाकर धरती को बचाने में मदद...
Homeमध्यप्रदेशआइए आज संकल्प लें कि पेड़ लगाकर धरती को बचाने में मदद...

आइए आज संकल्प लें कि पेड़ लगाकर धरती को बचाने में मदद करेंगे : सीएम शिवराज सिंह चौहान

इंडिया न्यूज़, Madhya Pradesh News : जलवायु अशांति के इस समय में पर्यावरण क्षरण में तेजी से वृद्धि देखी गई है। वर्ष 2021 को समय के चक्र में सबसे गर्म में से एक के रूप में दर्ज किया गया था और हाल के साक्ष्य बताते हैं कि यह केवल गर्म होने के लिए बाध्य है।

आज हमारी नदियाँ अस्तित्व के संकट का सामना कर रही हैं। मौसम का चक्र बदल रहा है। हवा जहरीली हो रही है और लगातार नई बीमारियाँ फैल रही हैं। हमारे पास एक विकल्प है या तो पृथ्वी के संतुलन को बहाल करना और एक रहने योग्य वातावरण से गुजरना या हमारी आने वाली पीढ़ियों को हमारी शालीनता है।

स्वार्थ और लालच का शिकार होने देना। पेड़ लगाना पर्यावरण संरक्षण की दिशा में पहला कदम है। जबकि जलवायु परिवर्तन पर वैश्विक ध्यान बढ़ा है। मैं विशेष रूप से पर्यावरण के मुद्दों पर हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी के विचारशील नेतृत्व की प्रशंसा करता हूं।

सीओ में ‘पंचामृत’ और ‘ग्रीन ग्रिड इनिशिएटिव – वन सन वन वर्ल्ड वन ग्रिड’ की उनकी अवधारणा दुनिया भर के नीति निर्माताओं के लिए कार्रवाई का एजेंडा प्रस्तुत करती है। मैं अपने लोगों से एक ऐसा राज्य पाने के लिए बेहद भाग्यशाली रहा हूं जो वनस्पतियों जीवों और जैव विविधता के भंडार से भरपूर है।

प्रकृति के साथ मेरा जुड़ाव सहज है। क्योंकि मेरा जन्म नर्मदा नदी के तट पर एक जंगल से ढके छोटे से गाँव में हुआ था। मैंने अपना बचपन पेड़ों के साथ खेलते हुए बिताया और मैंने गौर से देखा कि कैसे एक पेड़ अपने आप में एक ब्रह्मांड की तरह है। जीवन से भरा हुआ पक्षियों कीड़ों सरीसृपों और छोटे जानवरों का घर।

भारत का हरित राज्य मध्य प्रदेश रिकॉर्ड किए गए वन क्षेत्र के मामले में सभी राज्यों में सर्वोच्च स्थान पर है। जिसमें इसके भौगोलिक क्षेत्र का 25.15% शामिल है। इन आँकड़ों ने 2030 तक वनों की कटाई को रोकने और वन हानि और गिरावट को उलटने के लिए हमारी प्रतिबद्धता और संकल्प को और आकार दिया है और मजबूत किया है।

हम ‘अंकुर अभियान’ पर युवाओं महिलाओं हमारी जनजातियों अनुसूचित जाति किसानों को पर्यावरण संरक्षण के लिए एक पेड़ लगाने के लिए लगातार प्रोत्साहित कर रहे हैं। और परिणाम दिखाई दे रहे हैं। सार्वजनिक जीवन में विशेष अवसरों और सार्वजनिक समारोहों में एक पेड़ लगाना एक सामान्य अनुष्ठान रहा है।

एक समय मुझे लगा कि केवल कुछ अवसरों पर ही पौधे लगाना पर्याप्त नहीं होगा। मैंने पिछले साल 19 फरवरी को ‘नर्मदा जयंती’ पर प्रतिदिन एक पौधा लगाने का संकल्प लिया था। मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मैंने अब तक एक भी दिन नहीं छोड़ा है। लोगों की बढ़ती भागीदारी और पेड़ लगाना एक जन आंदोलन बनता जा रहा है। यह देखकर खुशी होती है।

मुझे खुशी है कि हमने एक छोटा लेकिन स्थिर परिवर्तन किया है।जिसमें सीमाओं को पार करने और विश्व स्तर पर विस्तार करने की क्षमता है। इस विश्व पर्यावरण दिवस पर, मैं अपने देश के प्रत्येक नागरिक को इस छोटी लेकिन महत्वपूर्ण प्रथा के लिए प्रतिज्ञा लेने के लिए प्रोत्साहित करता हूं जो सीधे धरती मां की भलाई और हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए योगदान दे रही है। हम निश्चित रूप से उनके बहुत ऋणी हैं।

ये भी पढ़े: RSS प्रमुख मोहन भागवत ने देखी ‘सम्राट पृथ्वीराज’ और कहा, अब हम भारतीय नजरिये से देख रहे इतिहास

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular