Wednesday, November 30, 2022
Homeइंदौरएमपी : इंदौर नगर निगम ने पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने...
Homeइंदौरएमपी : इंदौर नगर निगम ने पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने...

एमपी : इंदौर नगर निगम ने पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव पारित किया

- Advertisement -

इंडिया न्यूज़, Indore (Madhya Pradesh) : मध्य प्रदेश के इंदौर में सुरक्षा कवर बढ़ाने के प्रयास में, नगर निगम ने अपने पहले मेयर-इन-काउंसिल में शहर भर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव पारित किया है। इन कैमरों को संपन्न कॉलोनियों के लोग अपने खर्चे पर लगाएंगे और आदेश का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, इसके अलावा जिन इलाकों में रहवासी आर्थिक रूप से मजबूत नहीं हैं। वहां नगर निगम कैमरे लगवाएगा। साथ ही मेयर-इन-काउंसिल द्वारा इंदौर की लता मंगेशकर की प्रतिमा स्थापित करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। यह प्रतिमा लता मंगेशकर के पुराने घर के पास गांधी हॉल प्रांगण में स्थापित की जाएगी।

मेयर पुष्यमित्र भार्गव ने कहा की “शहर में सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से निगरानी करने के लिए, नगर निगम ने अपनी शक्ति का उपयोग करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया। जिसके तहत शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्णय लिया गया है। जहां 100 या अधिक लोग इकट्ठा होंगे वहां सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

इसका डेटा 30 दिनों तक संग्रहीत किया जाएगा, जिसकी निगरानी स्मार्ट सिटी के कार्यालय से की जाएगी। इस कैमरे के फुटेज का उपयोग कानून की दृष्टि से उपयोगी होगा। इसके लिए हमने उपनियम बनाए हैं।’ उन्होंने कहा, ”आवासीय कॉलोनियों में जहां लोग अपने खर्चे पर सीसीटीवी नहीं लगा पा रहे हैं। वहां नगर निगम कैमरे लगवाएगा। तो कैमरे लगवाने की जिम्मेदारी शहरवासियों की होगी।

इंदौर में पली-बढ़ी लता मंगेशकर की प्रतिमा स्थापित करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया है। प्रतिमा को गांधी हॉल प्रांगण के बगीचे में स्थापित किया जाएगा। जो सिख मोहल्ले में लता मंगेशकर के पुराने घर से सटा हुआ है। इंदौर के रेजिडेंसी एरिया का नाम बदला जा रहा है। इसका नाम 1857 के क्रांतिवीर महाराणा बख्तावर सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह क्षेत्र अब महाराणा बख्तावर सिंह क्षेत्र के नाम से जाना जाएगा।

ये भी पढ़े : एमपी : राहतगढ़ में स्कूल बस की टक्कर से 1 बच्चे की मौत

ये भी पढ़े : कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं : कमलनाथ

ये भी पढ़े : सीबीएन ने मध्य प्रदेश में संचालन में एक हजार किलो से अधिक पोस्त भूसा जब्त किया

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular