- Advertisement -

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी और कमल नाथ को जान से मारने वाली धमकी देने वाला आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपि को नागदा से गिरफ्तार किया है। जानकारी मिली है कि धमकी मिलने के बाद धमकी की जांच गुरुद्वारों के इर्द-गिर्द की जा रही थी। कयास लगाया जा रहा है कि सेवादारों ने एक दूसरे को फंसाने के लिए पत्र भेजा होगा। इसी बात को मद्देनजर रखते हुए पुलिस पांच मोबाइलों की काल डिटेल और 50 संदेहियों से पूछताछ कर चुकी है। साथ ही जांच में जिस अमनदीप का वोटर आइडी कार्ड मिला था। पुलिस उससे भी पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़े: Bharat Jodo Yatra: ‘भारत जोड़ो यात्रा के बहाने खुद की ब्रांडिंग में जुटे कांग्रेस के कई नेता : BJP

पुलिस के अनुसार पत्र में ज्ञानसिंह का नाम और मोबाइल नंबर लिखा था। विष्णुपुरी निवासी ज्ञानसिंह आटो रिक्शा चलाता है। इसके पहले वह भंवरकुआं स्थित गुरुद्वारा में सेवादार था। उसने एक अन्य सेवादार लालसिंह का नाम बताया। जिससे उसकी अनबन थी। लालसिंह को पकड़ा तो उसने पत्र से इन्कार किया। लेकिन जांच की दिशा मिल गई। इसके बाद चार टीमें इंदौर-उज्जैन के गुरुद्वारों में जांच करने पहुंच गईं। जांच में पता चला कि भेजा गया पत्र उज्जैन से ही पोस्ट हुआ था।

यह भी पढ़े: Bhind: पिस्टल से केक काटकर बनाया बर्थडे, वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने दबोचा

पुलिस का कहना है कि अमनदीप का वोटर आइडी कार्ड पत्र के पीछे लगा हुआ था। अमनदीप टैक्सी चलाता है। इंदौर पुलिस की सूचना पर करनाल पुलिस ने पूछताछ की तो बताया कि पिछले साल अप्रैल में वह 200 ग्राम स्मैक के साथ गुना में गिरफ्तार हुआ था। उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट का केस न्यायालय में लंबित है। कोर्ट में पेशी पर जाना पड़ता है। 25 वर्षीय अमन ने बताया कि गुना के धरनावदा थाना में पुलिस ने उससे आधार कार्ड, वोटर आइडी और लाइसेंस जब्ती में लिया था। जूनी इंदौर पुलिस ने धरनावदा पुलिस से संपर्क किया तो कहा लिखापढ़ी में अमन का लाइसेंस और आधार कार्ड ही जब्ती में है। डीसीपी के मुताबिक, उज्जैन पहुंची टीम पोस्ट आफिस और गुरुद्वारों में पूछताछ कर रही है। उन लोगों का डाटा एकत्र किया जा रहा है जिनका इंदौर के सेवादारों से संपर्क है।

यह भी पढ़े: Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी को मिली बम से उड़ाने की धमकी, जाने क्या लिखा था धमकी भरे पत्र में?