Saturday, October 8, 2022
Homeभोपालभोपाल में 12 साल की बच्ची को अगवा कर बेचने साजिश, दो...
Homeभोपालभोपाल में 12 साल की बच्ची को अगवा कर बेचने साजिश, दो...

भोपाल में 12 साल की बच्ची को अगवा कर बेचने साजिश, दो आरोपी गिरफ्तार

इंडिया न्यूज़, Bhopal kidnapping News: भोपाल के बैरसिया में एक बच्ची के अपहरण का मामला सामने आया है। जिसमें दो आरोपियों ने अपने पड़ोस की 12 साल की लड़की को अगवा कर लिया। आरोपियों में एक योगा टीचर है। दोनों बच्ची के मोहल्ले में ही रहते हैं। आरोपियों ने बच्ची को करंट भी लगाया। हालत बिगड़ने के बाद बच्ची को बोरे में भरकर बंधक बना कर रखा। गुमशुदगी दर्ज करने के बाद पुलिस हरकत में आई। 10 घंटे में बच्ची को बरामद कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपियों ने बताया कि उन पर कर्ज हो गया था। ऐसे में बच्ची को बेचकर कर्ज चुकाने की साजिश रची थी।

बेहोशी का इंजेक्शन देकर रखा बच्ची को

पुलिस के मुताबिक शांतिकुंज में रहने वाली 12 साल की बच्ची 6वीं की छात्रा है। उसके पिता टीचर हैं। बुधवार शाम करीब 6 बजे उसकी मां टेलर की दुकान गई थी। इसी बीच बच्ची भी मां के पीछे-पीछे जाने लगी। इसी दौरान घर के सामने खड़ा योगा टीचर नर्मदा प्रसाद जाटव (24) ने बच्ची को अपने घर में खींच लिया। इसके बाद ग्रीन मैट से उसके हाथ-पैर बांध दिए। मुंह को कपड़े से बांध दिया। इसके बाद आरोपी रिश्तेदार राजकुमार जाटव को बुला लिया। दोनों ने लड़की को बेहोशी का इंजेक्शन दिया।

करंट भी दिया गया

लड़की के बेहोश होने के बाद उसे बोरे में भरकर बाइक से दोनों करीब एक किलोमीटर दूर पंडित दीनदयाल कॉलोनी स्थित रिश्तेदार के मकान पर लेकर पहुंचे। यहां बच्ची को कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद उसे करंट के झटके दिए। थोड़ी देर बाद दोनों ने कमरे में बाहर से ताला लगा दिया। शाम करीब सात बजे तक जब बेटी नहीं आई, तो परिवारवालों ने तलाश शुरू की। इसके बाद रात करीब नौ बजे पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस भी तुरंत हरकत में आ गई। गुरुवार तड़के करीब चार बजे बच्ची को पुलिस ने राजकुमार जाटव के घर से बरामद किया।

पड़ोस की महिला ने सुनी चीख

एसपी देहात किरणलता केरकट्‌टा ने बताया कि पुलिस ने बच्ची के बारे में इलाके में पूछताछ की। इस बीच मुख्य आरोपी नर्मदा के घर के पास रहने वाली एक महिला ने बताया कि टीचर के घर से बच्ची के चीखने की आवाज आ रही थी। इसी बीच, पुलिस ने सीसीटीवी खंगाले। इसमें दोनों आरोपी बाइक से जाते दिखे। दोनों बीच में बोरी में कुछ सामान रखे थे। शक के आधार पर पुलिस ने नर्मदा से पूछताछ की, तो उसने बताया कि सब्जी खरीदने गया था। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने गुनाह कबूल कर लिया। बताया कि रिश्तेदार के घर में बच्ची है।

प्रशासन ने तोड़ा आरोपी का मकान

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद प्रशासन ने नर्मदा का मकान ढहा दिया। वह अतिक्रमण कर बनाया गया था। आरोपी लड़के के आने-जाने पर दो तीन दिन से नजर रख रहा था। बुधवार को जैसे ही बच्ची अकेली जाते दिखी, तभी आरोपी ने उसे घर में खींच लिया।

Read More: Mikka Singh Birthday: मीका सिंह आज अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं

Read More: भोपाल में पिछले साल के मुकाबले दुगुने हुए साइबर क्राइम के मामले

Read More:  मध्य प्रदेश की 7 नगर पालिकाओं में निकाय चुनाव लड़ेगी AIMIM

connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular